Dard Bhari Shayari – Kaise Jiye Hain Maine

मुलाक़ातें तो आज भी हो जाती है तुमसे..
ख़्वाब किसी “ताले” के मोहताज नही हैं..
तेरी आँखों से यून तो सागर भी पिए हैं मैने..
तुझे क्या खबर जुदाई के दिन कैसे जिए हैं मैने..

Dard Bhari Shayari

साकी पिला रहा है और मैं पिए जा रहा हूँ,
हर सांस पर बस नाम तेरा लिए जा रहा हूँ ,
ख्वाइश तो मरने की है फिर भी जिए जा रहा हूँ,
जो आगाज़ तुम ने किया था मेरी बर्बादिओं का मैं उन्हें अंजाम दिए जा रहा हूँ.