Dosti Shayari in Hindi on Jinda hai dosti

तू चाँद है शरमाया ना कर,
फूल से चेहरे को मुरझाया ना कर,
जब तक हम ज़िंदा है तेरे दोस्त बन कर
तब तक किसी ब बात से घबराया ना कर

Hindi Shayari on Dosti

दुनियादारी में हम थोड़े कच्चे हैं,
पर दोस्ती के मामले में सच्चे है,
हमारी सच्चाई बस इस बात पर कायम है,
कि हमारे दोस्त हमसे भी अच्छे हैं.

True Dosti Shayari

जरुरी नहीं कि इंसान प्यार की मूरत हो,
सुंदर और बेहद खूबसूरत हो,
अच्छा तो वही इंसान होता है,
जो तब आपके साथ हो, जब आपको उसकी जरुरत हो।

Thoda Pyar Thodi Dosti

किस हद तक जाना है ये कौन जानता है,
किस मंजिल को पाना है ये कौन जानता है,
दोस्ती के दो पल जी भर के जी लो,
किस रोज़ बिछड जाना है ये कौन जानता है..