True Love Shayari in Hindi on Dil Ka Sagar

दिल के सागर में लहरें उठाया ना करो,
ख्वाब बनकर नींद चुराया न करो,
बहुत चोट लगती है मेरे दिल को,
तुम ख़्वाबों में आ कर यु तड़पाया न करो.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *