Sad Shayari in Hindi on Roothna Aur tootna

मन कपडा नहीं फिर भी मैला हो जाता है ,
दिल कांच नहीं फिर भी टूट जाट है,
अजीब दस्तूर है ज़िन्दगी का,
रूठ कोई जाता है , टूट कोई जाता है..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *