Bewafa Shayari in Hindi on Mohabbat Nahi Kar Pata

मैंने कुछ इस तरह से खुद को संभाला है,
तुझे भुलाने को दुनिया का भरम पाला है,
अब किसी से मुहब्बत मैं नहीं कर पाता,
इसी सांचे में एक बेवफा ने मुझे ढाला है..

2 thoughts on “Bewafa Shayari in Hindi on Mohabbat Nahi Kar Pata”

  1. waah bahut khoob umdah shayari

    Dil ke hawaale se sada ati hai. Dil ki barbadiyo me dil ko koi ilzaam na de
    Ise mausam ki bad mijaazi kahein ya taqdeer ka hawala dein. Aag jalti hai loo bahti hai dil jhar2 barasta hai

  2. बेवफा ही सही तू दोस्त है मेरी.
    बेवफाओं के नाम जिंदगी यूँ बर्बाद नहीं की जाती, बेवफाओं को याद रख के भी भूलना होता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *