Zindagi Shayari in Hindi

शाम होते ही वो सूरज से हुकूमत छीन लेता है,
सुबह होते ही वो तारो की कियादत छीन लेता है,
तरीके सीख उसकी ज़मीन पे चलने-फिरने के,
तकब्बूर करने वालों से वो इज्जत और दौलत छीन लेता है..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *