Two Line Shayari on Sardi Ka Mausam

1. मत ढूढ़ना मुझे इस जहाँ की तन्हाई में,
ठण्ड बहुत हैं मैं हूँ अपनी रजाई में.

2. जाड़े की रुत है नई तन पर नीली शाल
तेरे साथ अच्छी लगी सर्दी अब के साल.

3. समझ में नही आता, सारी रात गुजर जाती हैं,
रजाई में हवा किधर से घुस जाती हैं.

4. ठण्ड में वादा नही करते कि दोस्ती निभायेंगे,
जरूरत पड़ी तो सब कुछ ले लो, पर रजाई न दे पायेंगे.

5. बड़ी बेवफ़ा हो जाती है , ये घड़ी भी सर्दियों में,
5 मिनट और सोने की सोचो तो, 30 मिनट आगे बढ़ जाती है.

Funny Hindi Shayari on Sard Mausam

कितना दर्द हैं दिल में दिखाया नही जाता,
गंभीर हैं किस्सा सुनाया नही जाता,
विडियो कॉल मत कर पगली,
रजाई में से मुहँ निकाला नही जाता.

Dard Bhari Shayari in Hindi on Pyar Par Pabandi

फूल इस सोच में ग़ुम हैं कि कहाँ महकेंगे,
तितलियों के लबे इज़हार पर पाबंदी है,
कत्ल करने की खुली छूट है अब भी लेकिन,
प्यार मत करना यहां प्यार पर पाबंदी है..

Sad Shayari in Hindi on Mujhe Awaaz De

मैंने कब कहा तू मुझे गुलाब दे,
या फिर अपनी मोहब्बत से नवाज़ दे,
आज बहुत उदास है मन मेरा,
गैर बनके ही सही तू बस मुझे आवाज़ दे..