Friendship Shayari in Hindi on Kabhi Na Kabhi

कभी न कभी, कहीं न कहीं याद आपकी आ ही जाएगी,
ना चाहते हुए वो बीती ज़िन्दगी रुला जायेगी,
बीच राह में छोड़ गए जो तुम तसवुर तो दिखा जाएगी,
करके बंद पलके जब सोचते है हम याद बचपन की आ जाती है,
बीते हुए वो लम्हे आँखें भिगो जाती है,
वो शरारत वो दोस्ती वो गुस्ताखियाँ फिर न लौट आएगी,
कहीं न कहीं कभी न कभी आपकी याद जरूर आएगी..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *