Dosti Shayari in Hindi on Kaun Apna Kaun Paraya

झूठा अपनापन तो हर कोई जताता है,
वो अपना ही क्या जो पल पल सताता है,
यकीं न करना हर किसी पर क्यूंकि,
करीब कितना है कोई यह तो वक्त बताता है..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *